ग्रीन हाउस प्रभाव

ग्रीन हाउस प्रभाव असल में धरती के वायुमंडल में सूरज से आने वाली गर्मी के कैद हो जाने की वजह से पैदा होता है. ये गर्मी वायुमंडल में कैद तो हो जाती है, लेकिन वापस आसमान में नहीं जा पाती. जैसे जैसे ये गर्मी ज्यादा कैद होती जाती है वैसे वैसे हमारा वायुमंडल और ज्यादा गर्म होता जाता है. और हमारे जमीन की सतह भी ज्यादा गर्म होने लगती है.

हमारे वायुमंडल में कुछ गैसें जैसे कि पानी की भाप, कार्बन डाईआक्साइड, मीथेन और ऐसी ही अन्य बहुत सारी गैसें सूरज से आने वाली गर्मी को रोक कर रख लेती हैं, और जमीन का तापमान बढाती हैं. इसलिए इन्हें ग्रीनहाउस गैस कहा जाता है. ऐसी छः प्रमुख गैसे हैं कार्बन डाईआक्साइड, मीथेन (जो कि कार्बन डाईआक्साइड से बीस गुना ताकतवर है) नाइट्रस आक्साइड, हाइड्रो फ्लोरो कार्बन, परफ्लोरो कार्बन, सल्फर हेक्साफ्लोराइड.  

प्रकाशित तिथि:सितंबर 16, 2014
सभी चित्र को देखें